Hanta Virus क्या है, इससे बचने का उपाय

Hanta Virus क्या है, इससे बचने का उपाय

अभी विश्व भर में कोरोना जिस प्रकार अपना प्रकोप दिखा रहा है उससे लड़ने में देश सझम नही है इसी बीच एक ओर वायरस आ चुका है, जिसका नाम Hanta Virus है, चीन के युन्नान प्रांत में हंता वायरस के कारण एक व्यक्ति जब से मौत हुआ है, उसके बाद से हंता वायरस से ओर लोगों में दहसत फैल गया है तो आपको भी इसके बारें में जानकारी होना बहुत जरूरी है हंता वायरस क्या है इसके लक्षण और उपाय l

ऐसे माहौल में आपको यह जानना बेहद जरूरी है की हंता वायरस और कोरोना वायरस क्या अंतर है लोगों में यह भी डर है की जैसे कोरोना चीन के वुहान शहर से फैला वैसे ही हंता वायरस भी दुनियाभर में न फैलें l

हंता वायरस क्या है – What is Hanta Virus

हंता वायरस चूहों से फैलता है, मगर एक व्यक्ति से दुसरें व्यक्ति में नही फैलता है इससे यह तो पता चलता है की ये उतना खतरनाक नही है l

यदि को व्यक्ति चूहों के मल-मूत्र या फिर लार को छूने के बाद अपने चेहरे को छूता है तो हंता वायरस से संक्रमित होने की आशंका पैदा हो जाता है l

Advertisement

वही हम अगर एक्सपर्ट्स की बात माने तो यह वायरस गिलहरी या चूहों के संपर्क से किसी इंसान में फैलता है (Centre for Disease Control and Prevention) के मुताबिक Hanta Virus का संक्रमण घर के अंदर व बाहर चूहों के द्वारा फैलने का शुरुआती वजह बन सकता है l

CDC की माने तो हंता वायरस में मृत्युडर 38 फ़ीसदी तक होता है और इस बीमारी का अभी कोई ‘स्पेसिफिक ट्रीटमेंट’ नही है l

Hanta Virus के लक्षण क्या है?

यदि hantavirus से कोई इंसान संक्रमित होता है तो उसे सर्दी, बुखार, दर्द, उल्टी जैसे दिक्कत होती है, हंता वायरस से संक्रमित व्यक्ति की हालत बिगड़ने लगता है और उसके फेफड़ों में पानी भरने लगता है और उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगता है l

हंता वायरस के लक्षणों के बारें में जानते है l

Advertisement
  • पेट में दर्द, उल्टी और डायरिया की समस्या
  • बुखार, सिर दर्द और बदन में दर्द
  • इलाज में देरी होने पर फेफड़ों में पानी भरने लगता है

हंता वायरस से बचने के उपाय

अगर आप हंता वायरस से बचकर रहना चाहते है तो आपको चूहों से बचकर रहना पड़ेगा इसके लिए आपको अपने घरों को चूहों से सुरक्षित रखना होगा, आप ख़ासकर ध्यान रखे की आपके घर में चुहें न आये l

हंता वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नही जाता है, मगर चूहों के मल, लार, पेशाब को छूने के बाद अपनी नाक, आँख और मुँह को छूता है तो उस इंसान को हंता वायरस से संक्रमित होने की संभावना बढ़ जाता है यदि आप से ऐसा हो भी जाता है तो अपना हाथ जरूर धोये l

  • चूहों के मल-मूत्र को न छूए
  • चूहों के अलावा गिलहरी से भी बचें
  • घर में चूहे न आ सके इसका ध्यान रखें
  • अगर आप चूहों को हाथ लगते है तो साबुन से हाथ जरूर धोये

ऐसे आप हंता वायरस से बच सकते है, इसके इलाज की बात करें तो इसका इलाज केवल बचाव से ही हो सकता है तो आप से जितना हो सके उतना बचकर रहे l

अंतिम बात,

Advertisement

हम आपको स्वस्थ रखना चाहते है और आपको भी कोशिश करना चाहिए की आप घर से जितना हो सके उतना कम बाहर निकले और अपने आस-पास के लोगों को भी ध्यान रखने को बोले आप जितना सोशल डिस्टेन्सिंग से दूर रहेंगे आपके लिए उतना ही अच्छा होगा l

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें